Skip to content

PM Swamitva Yojana ऑनलाइन आवेदन || स्वामित्व कार्ड || प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना क्या हैं?

PM Swamitva Yojana की सबसे ज्यादा जरूरत हमारे देश के ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को है, इस योजना के तहत इन लोगों को उनकी संपत्ति का पूरा अधिकार मिलेगा, साथ ही उन्हें प्रधानमंत्री के संपत्ति कार्ड भी जारी किए जाएंगे। आज हम आपको प्रधानमंत्री स्वामित्व  योजना के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं, हम आपको बताएंगे कि PM Swamitva Yojana 2021 क्या है, इसके अधिकार, आवेदन और पंजीकरण प्रक्रिया क्या है? हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने डिजिटल इंडिया का सपना देखा है और उस सपने को साकार करने के लिए वह समय-समय पर किसी न किसी तरह की Sarkari Yojana शुरू करते रहते हैं। भारत को बढ़ावा देने के साथ-साथ भारत को डिजिटल बनाने के लिए, ग्रामीण निवासियों को भी डिजिटल होने की आवश्यकता होगी, प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने PM Swamitva Yojana की शुरुआत की। PM Swamitva Yojana के तहत, इसे ग्राम स्वराज पोर्टल के माध्यम से प्रचारित किया जाएगा और इसका प्रबंधन पंचायती राज्य मंत्रालय द्वारा भी किया जाएगा।

PM Swamitva Yojana क्या हैं?

प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू की गई प्रधान मंत्री स्वामी योजना के तहत, इस योजना को ऑनलाइन पोर्टल ग्राम स्वराज से जोड़ा जाएगा, जिससे भू-माफिया, नकली, भूमि लूट, आदि जैसे मुद्दे ऑनलाइन उपलब्ध होंगे। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू की गई इस योजना के तहत एक मानवरहित कैमरे से गांव का पूरा सर्वेक्षण करने की परिकल्पना की गई है और मैपिंग के बाद गांव में इस संपत्ति का मूल अधिकार रखने वाले ग्रामीण को पूरी तरह से उसके नाम पर पंजीकृत किया जाता है। हालांकि, इस पंजीकरण के बाद, गांव के इस निवासी को प्रधान मंत्री का एक संपत्ति कार्ड भी जारी किया जाएगा, जो यह प्रमाणित करेगा कि इस संपत्ति पर इस व्यक्ति का अधिकार है। इसकी सबसे अधिक आवश्यकता ग्रामीणों को होती है, क्योंकि ग्रामीणों में अभी भी कई ऐसे लोग हैं जिनके पास स्वामित्व या जमीन के लिए एक भी दस्तावेज नहीं है जो इस बात की पुष्टि कर सके कि जमीन उनकी है। ग्राम पोर्टल का उपयोग गांव के विकास के लिए किया जाएगा, साथ ही गांव की प्रत्येक संपत्ति को उसके मालिक से जोड़ा जाएगा, जिससे धोखाधड़ी, रिश्वतखोरी और भू-माफिया के काम पर विराम लगेगा।

PM Swamitva Yojana Highlights

योजना का नाम प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना
शुरुवात कब हुई प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा 24 अप्रैल 2020 को हुई
विभाग पंचायती राज मंत्रालय भारत सरकार
उद्देश्य जमींन के असली मालिक को जमीन का हक दिलाना
लाभ ग्रामीण क्षेत्र की जमीन लोगो के नाम करवाना और उनको लोन सुविधा देना
ऑफिसियल वेबसाइट क्लिक करें 

PM Swamitva Yojana के लाभ

Advertisements

प्रधान मंत्री संपत्ति योजना शुरू करने का सबसे बड़ा लक्ष्य ग्रामीणों को उनकी संपत्ति का पूरा अधिकार देना है, और प्रधान मंत्री ने एक वीडियो कॉन्फ्रेंस में यह भी कहा कि पहले देश की लगभग 100 ग्राम पंचायतें ही ब्रॉडबैंड से जुड़ी थीं, लेकिन आज के युग में यह संख्या 1.25 लाख तक पहुंच गई है, यानी अब ग्रामीण क्षेत्रों के निवासी भी आसानी से किसी समाचार और सरकारी योजनाओं की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इसी तरह उन्होंने कहा कि जिस तरह घर के लिए मकान लेना संभव है, शहर में जमीन का कर्ज और कर्ज भी आसानी से मिल जाता है, उसी तरह अब गांव में प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना से मकान के मालिक की पहचान आसान हो जाएगी. जमीन और घर का मालिक। क्रेडिट की सुविधा भी बहुत आसानी से मिल जाएगी। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि गांव में जमीन की मैपिंग ड्रोन कैमरे से की जाएगी और अब देश के करीब 6 राज्यों में इसकी शुरुआत हो चुकी है, यहां तक ​​कि केंद्र सरकार ने भी कहा है कि 2024 तक इसे देश के हर गांव तक पहुंचा दिया जाएगा देश। इस योजना से जुड़े मुख्य लाभ निचे दिए गये :-

  • प्रधानमंत्री संपत्ति योजना के तहत संपत्ति पंजीकरण प्रक्रिया को सरल बनाया जाएगा। इससे जमीन पर अतिक्रमण रोकने में भी मदद मिलेगी। ️
  • ग्राम पंचायतों के अंतर्गत आने वाले किसानों को भी क्रेडिट लाइन उपलब्ध होगी।
  • इसके बजाय, लोगों को आसानी से बैंक से ऋण मिल सकेगा। ️
  • किसी भी जमीन या संपत्ति का मालिक कौन है, इसकी जानकारी हासिल करना बेहद आसान होगा।
  • ग्राम पंचायत व e gram portal के माध्यम से इस योजना का आरम्भ होगा |
  • इस योजना से जमींन का असली मालिक कौन हैं उसका भी सही पता चल सकेगा और वह उस जमीन पर अपना हक में जमा सकेगा |

PM Swamitva Yojana के लिए आवेदन कैसे करे

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के लिए अभी तक किसी भी प्रकार का आवेदन शुरू नही हुआ हैं हालाँकि इस योजना के लिए सरकार द्वारा सर्वे करवाया जा रहा हैं | जिस के आधार पर लोगो को उनकी जमीन की रजिस्ट्री का हक़ मिल सकेगा

सर्वे के आधार पर ही जमींन के असली मालिक का पता लग सकेगा | ड्रोन के माध्यम से भी सर्वे किया जाएगा | और सरकार द्वारा चयनित अधिकारी ही सर्वे कर सकेगे और वो सुनिचित करेगे की जमींन या प्रॉपर्टी पर किसका हक़ हैं | सारी जानकारी सुनिचित हो जाने के बाद ही फिर आपका Pradhan Mantri Swamitva Yojana Registration किया जायेगा  और फिर आपको Pradhan Mantri Swamitva Card या Property Card मिल जायेगा |

Google

अधिक जानकारी के लिए आप egram swaraj portal पर जाकर भी जानकारी हासिल कर सकते हैं |

PM Swamitva Yojana में अपना नाम कैसे देखे?

  • अपना नाम देखने के लिए आपको PM Swamitva Yojana की ऑफिसियल साईट पर जाना होगा |
  • वहां पर आपको होम पेज पर New Registration लिखा मिलेगा जहां पर आपको रजिस्ट्रेशन करना होगा | जिसके करने पर आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जायेगा |

PM Swamitva Yojana Helpline No.

स्वामित्व योजना से जुडी लगभग सारी जानकारी हमने हमारे इस पोस्ट में दे दी हैं और यही फिर भी आप इस योजना से जुडी अगर कोई और जानकारी लेना चाहते हैं तो आप मेल [email protected] द्वारा भी इस योजना से सम्बधित जानकारी हासिल कर सकते हैं |

PM Swamitva Yojana Latest Update

पीएम स्वामीत्व योजना 2021 के तहत ग्रामीण क्षेत्रों की आबादी का सर्वे कर स्वामित्व रिकॉर्ड तैयार किया जाएगा। और रिकॉर्ड तैयार होने के बाद, स्वामित्व रिकॉर्ड, यानी प्रधान मंत्री  का नक्शा, ग्रामीणों की भूमि के स्वामित्व के प्रमाण के रूप में जारी किया जाएगा। यह कार्ड उन लोगों को जारी किया जाएगा जो 25 सितंबर, 2018 को या उसके बाद आबाद भूमि का उपयोग करते हैं। उन्हें अगली भूमि आवंटित की जाएगी। प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने अपने वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान यह भी कहा कि 2021 स्वामित्व योजना अध्यादेश के तहत, इन ग्रामीणों को स्वामित्व रिकॉर्ड और उनकी संपत्ति के स्वामित्व के प्रमाण पत्र जारी किए जाएंगे। स्वामीत्व योजना 2021 के नेतृत्व में ग्रामीण आबादी का सर्वे कर संपत्ति का रिकॉर्ड तैयार किया जाएगा। और रिकॉर्ड तैयार होने के बाद, स्वामित्व रिकॉर्ड, यानी प्रधान मंत्री की संपत्ति का नक्शा, ग्रामीणों की भूमि के स्वामित्व के प्रमाण के रूप में जारी किया जाएगा। यह कार्ड उन लोगों को जारी किया जाएगा जो 25 सितंबर, 2018 को या उसके बाद आबाद भूमि का उपयोग करते हैं। उन्हें अगली भूमि आवंटित की जाएगी। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने भी वीडियो कांफ्रेंस में कहा कि 2021 स्वामीत्व योजना अध्यादेश के तहत इन ग्रामीणों को संपत्ति का रिकॉर्ड और मालिकाना हक दिया जाएगा।

PM Swamitva Card कैसे डाउनलोड करे

Advertisements

अगर आप इस स्वामित्व कार्ड को डाउनलोड करना चाहते हैं, व निम्नानुसार स्वामित्व कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं।जिसके लिए मालिकों को एक एसएमएस भेजा जाएगा। इसके बाद आपको इस एसएमएस को ओपन करना होगा। जब आप कोई SMS ओपन करेंगे तो आपको उसमें एक लिंक दिखाई देगा। फिर आपको इस लिंक पर क्लिक करना है। इसके बाद आप अपना प्रॉपर्टी कार्ड डाउनलोड कर पाएंगे। उसके बाद, सभी राज्य सरकारें अपने राज्य के स्वामित्व कार्ड वितरित करेगी |

FAQ’s (Frequently Asked Questions)

PM Swamitva Yojana में अपना नाम कैसे देखे?

  • अपना नाम देखने के लिए आपको PM Swamitva Yojana की ऑफिसियल साईट पर जाना होगा |
  • वहां पर आपको होम पेज पर New Registration लिखा मिलेगा जहां पर आपको रजिस्ट्रेशन करना होगा | जिसके करने पर आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जायेगा |

स्वामित्व कार्ड कैसे बनाये?

  • सबसे पहले सरकारी कर्मचारियों द्वारा आपकी जमींन का सर्वे होगा |
  • सर्वे के बाद आपका पंजीकरण किया जायेगा |
  • आपके द्वारा दी गयी जानकारी रजिस्ट्रेशन फॉर्म में डाली जायेगी |
  • अंत में आपकी सारी जानकारी डालने के बाद आपका फॉर्म सबमिट किया जाएगा जिससे आपका स्वामित्व कार्ड बन कर आ जायेगा |

स्वामित्व योजना क्या हैं?

PM Swamitva Yojana में लोगो की सम्पति का ब्यौरा डिजिटल माध्यम से रखा जायेगा | और साथ ही लोगो को उनकी सम्पति का मालिकाना हक़ भी इस योजना के माध्यम से दिया जायेगा |

स्वामित्व योजना की शुरुआत कब हुई?

इस योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री द्वारा 24 अप्रैल 2020 को हुई थी | जिसका महाराष्ट्र, हरियाणा, कर्नाटका, उत्तर प्रदेश, उतराखंड, मध्यप्रदेश, पंजाब और राजस्थान के कुछ गांवो में इस योजना के प्रथम चरण की शुरुआत हो चुकी हैं |

Advertisements
Share this post on social!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Sarkari Yojana

प्रिय पाठक, यह वेबसाइट केंद्र सरकार, राज्य सरकार या किसी भी सरकारी एजेंसी से संबद्ध नहीं है। विभिन्न प्रासंगिक योजनाओं की आधिकारिक वेबसाइटों और समाचार पत्रों से हमारे द्वारा सभी जानकारी एकत्र की जाती है, इन सभी स्रोतों के माध्यम से, हम हमेशा आपको सभी राज्य और केंद्र सरकार के योजनाओं के बारे में सही जानकारी / जानकारी प्रदान करने का प्रयास करते हैं। यह हमारा प्रयास है कि हम आपको नवीनतम समाचार और समाचार प्रदान करें। हम अनुशंसा करते हैं कि आप अंतिम निर्णय लेने से पहले संबंधित योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं। हम अनुशंसा करते हैं कि आप आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर प्रदान की गई जानकारी को सत्यापित करें। हम आपको केवल सही जानकारी प्रदान करने का प्रयास करेंगे। आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर समाधान की प्रामाणिकता को सत्यापित करने की आवश्यकता है।