MP E Uparjan Portal 2022: किसान ऑनलाइन पंजीयन

MP E Uparjan 2022: किसानों को मजबूत और आत्मनिर्भर बनाने के लिए सरकार किसानों को तरह-तरह के फायदे देती है। ताकि किसानों की आय बढ़े और किसानों को उनके उत्पादों का सही दाम मिले। एमपी ई उपार्जन पोर्टल मध्य प्रदेश सरकार द्वारा लॉन्च किया गया है। वे सभी किसान जो अपनी फसल सरकार को समर्थन मूल्य पर बेचना चाहते हैं, उन्हें इस पोर्टल पर पंजीकरण कराना होगा।

आपको इस लेख के माध्यम से पंजीकरण के संबंध में पूरी जानकारी मिल जाएगी। इसके अलावा, आपको मध्य प्रदेश ई उपार्जन MP E Uparjan Portal पोर्टल से संबंधित अन्य जानकारी भी मिलेगी जैसे उद्देश्य, लाभ, सुविधाएँ, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन की स्थिति जानने की प्रक्रिया, पुष्टि प्रमाण प्राप्त करने की प्रक्रिया, तहसीलदार- लॉगिन आदि। तो यदि आप एमपी ई उपार्जन पोर्टल पर पंजीकरण प्रक्रिया जानना चाहते हैं, आपको हमारे इस लेख को पढ़ने की जरूरत है।

MP E Uparjan Portal 2022

MP E Uparjan 2022 एमपी ई उपार्जन पोर्टल 2022

एमपी ई उपार्जन 2022 के किसानों के लिए शुरू हो गया है। इस से, राज्य सरकार ने मध्य प्रदेश के उन किसानों के लिए इस पोर्टल पर पंजीकरण प्रक्रिया शुरू कर दी है जो खरीफ सीजन के दौरान अपनी फसल सरकार को समर्थन मूल्य MSP पर बेचना चाहते हैं। राज्य के सभी इच्छुक किसान जो सरकार द्वारा निर्धारित समर्थन मूल्य पर अपनी फसल बेचना चाहते हैं, उन्हें इस पोर्टल पर पंजीकरण करना होगा।

एमपी ई उपार्जन MP E Uparjan कवरेज प्लैन्ड

मध्य प्रदेश सरकार ने एमपीई टेंडरों के तहत पूरे मध्य प्रदेश को कवर करने की योजना तैयार की है। इसके लिए मध्य प्रदेश के हर जिले में अनाज, गेहूं और धान की निगरानी की गई है. मॉनिटरिंग से पता चला है कि मध्य प्रदेश में गेहूं क्रय प्रणाली में 2,830 क्रय केंद्र, 708 धावक और 2,830 डाटा एंट्री ऑपरेटर हैं और 12834 किसान प्रतिदिन अपनी गेहूं की फसल बेचते हैं। इस निगरानी से यह भी पता चला कि मध्य प्रदेश में धान क्रय प्रणाली में 795 खरीद केंद्र, 199 रनर और 795 डाटा एंट्री ऑपरेटर हैं और प्रतिदिन 4250 किसान अपनी फसल बेचते हैं।

ई उपार्जन पोर्टल MP E Uparjan Portal किसान ऑनलाइन पंजीयन

आपको बता दें कि एमपी ई खरीद पोर्टल पर पंजीकरण प्रक्रिया पिछली बार ऑनलाइन की गई थी। साथ ही इस बार रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया सिर्फ ऑनलाइन ही होगी। लेकिन इस बार रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया में कुछ बदलाव किए गए हैं। पिछले साल एमपी ई-खरीद का ऑनलाइन पंजीकरण कृषि उपज मंडी के माध्यम से ही हुआ था, जिससे कई किसानों को कई समस्याओं का सामना करना पड़ा था। लेकिन इस वर्ष मध्य प्रदेश सरकार ने सभी किसानों को घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से इस ऑनलाइन पोर्टल पर पंजीकरण करने का अवसर प्रदान किया है।

Key Highlights Of MP E Uparjan 2022

योजना का नाम एमपी ई उपार्जन MP E Uparjan
किसने शुरू की मध्य प्रदेश सरकार
लाभार्थी मध्य प्रदेश के किसान
उद्देश्य समर्थन मूल्य MSP पर फसल बेचने के लिए आवेदन करना
आधिकारिक वेबसाइट यहां क्लिक करें
साल 2022

MP E Uparjan 2022 का उद्देश्य

पिछले साल कृषि मंडी के दौरान हुई ऑनलाइन प्रक्रिया के कारण मध्य प्रदेश में किसानों को काफी दिक्कत हुई और कई किसान पंजीकरण नहीं करा पाए। जिसकी वजह से, उन्हें अपनी फसल को समर्थन मूल्य से कम कीमत पर बेचना पड़ा। इससे किसानों को काफी नुकसान हुआ है। मध्य प्रदेश सरकार किसानों की इस समस्या को समझती है और इस बार एमपी ई उपार्जन पोर्टल के माध्यम से पंजीकरण प्रक्रिया को ऑनलाइन कर दिया है। इस वर्ष राज्य के किसान ई-उपार्जन पोर्टल पंजीकरण केंद्रों में ई-उपार्जन के लिए पब्लिक डोमेन में पंजीकरण करा सकेंगे। जिससे उनका समय और पैसा दोनों बचे।

एमपी ई उपार्जन MP E Uparjan उपलब्ध सेवाएं

स्टेट यूजर

मुख्यमंत्री कार्यालय मुख्य सचिव कार्यालय
खाद्य मंत्री मध्य प्रदेश स्टेट सिविल सप्लाई कॉरपोरेशन (वित्त)
मुख्य सचिव कार्यालय संचालक कृषि
कृषि उत्पादन आयुक्त आयुक्त भू अभिलेख
प्रमुख सचिव कोऑपरेटिव नाफेड
प्रमुख सचिव कृषि अपेक्स बैंक
प्रमुख सचिव खाद्य मंडी बोर्ड
प्रमुख सचिव वित्त मध्य प्रदेश राज्य सहकारी विपणन संघ
प्रमुख सचिव राजस्व मध्य प्रदेश राज्य सहकारी विपणन संघ (वित्त)
सचिव खाद्य भारतीय खाद्य निगम
आयुक्त खाद मध्य प्रदेश वेयरहाउसिंग एंड लॉजिस्टिक्स कॉरपोरेशन
कपास पब्लिक रिलेशन
रजिस्ट्रार कोऑपरेटिव सोसायटी
मध्य प्रदेश स्टेट सिविल सप्लाई कॉरपोरेश

डिस्ट्रिक्ट यूजर

आयुक्त संभाग डीआर को –ऑपरेटिव
कलेक्टर प्रबंधक भारतीय खाद्य निगम
एसडीएम सिंचाई विभाग
एसडीओ फॉरेस्ट जिला केंद्रीय सहकारी बैंक
रीजनल मैनेजर (एम पी एस सी सी) कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक
जोनल मैनेजर मार्कफेड डीआईओ
जिला मैनेजर (एम पी एस सी सी) सीईओ जिला पंचायत
डीएमओ (मार्कफेड) उप संचालक कृषि
प्रबंधक (एमपीडब्ल्यूएलसी) प्रबंधक नाफेड
डीएसओ

अन्य यूजर

पंजीयन केंद्र एडमिनिस्ट्रेटर
पंजीयन केंद्र किओस्क डाटा क्लीनिंग
तोल काटा विभाग कॉल सेंटर
समिति जिला केंद्रीय सहकारी ब्रांच
तहसीलदार एसबीआई बैंक खाता सत्यापन

मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल MP E Uparjan 2022 के लाभ तथा विशेषताएं

  • इस पोर्टल पर राज्य के निवासी आसानी से अपने घर से अपने कंप्यूटर या मोबाइल के माध्यम से ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते हैं।
  • इस योजना से सभी राज्य के किसान लाभान्वित हो सकते हैं।
  • राज्य के किसान भी मोबाइल एप डाउनलोड कर इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।
  • मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल 2022 के माध्यम से पंजीकरण करने में किसानों को किसी भी कठिनाई का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • ऑनलाइन पोर्टल शुरू होने से समय की भी बचत होती है।
  • न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर गेहूं बेचने के लिए किसान को तीन तारीखें भी देनी होंगी, जिस दिन वह अनाज लेकर खरीद केंद्र पर आएगा।

मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल MP E Uparjan 2022 पंजीकरण के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश

मध्य प्रदेश के जो किसान इस ई उपार्जन पोर्टल पर पंजीकरण कराना चाहते हैं, वे कुछ बातों पर ध्यान दें, जो हमने नीचे दी हैं।

  • इस वर्ष मध्य प्रदेश के सभी किसान अपने आधार कार्ड नंबर और समग्र आईडी के माध्यम से पंजीकरण करा सकते हैं।
  • यदि आपके पास समग्र आईडी नहीं है, तो आप एमपी ई उपार्जन पोर्टल पर पंजीकरण नहीं कर सकते हैं, इसके लिए आपको पहले समग्र आईडी के लिए आवेदन करना होगा।
  • पंजीकरण के लिए आधार या समग्र आईडी होना अनिवार्य है।
  • आवेदक द्वारा दर्ज किए गए बैंक खाते के विवरण को ऑनलाइन पंजीकरण के समय सत्यापित किया जाना चाहिए।
  • मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल 2022 पर पंजीकरण के लिए मोबाइल नंबर होना अनिवार्य है। इस पंजीकरण प्रक्रिया को पूरा करने के लिए आपका मोबाइल नंबर आधार से जुड़ा होना चाहिए।
  • पंजीकरण के बाद आपको एक रसीद प्राप्त होगी, जिसे आपको सुरक्षित स्थान पर रखना चाहिए। पंजीकरण के बाद, खरीद के समय पुष्टिकरण प्रिंट करना और पुष्टिकरण अपने साथ लाना अनिवार्य है।

MP E Uparjan 2022 पंजीकरण के दस्तावेज़ (पात्रता )

  • आवेदक की  समग्र आईडी
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • ऋणपुस्तिका
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

एमपी ई उपार्जन प्रोसेस

  • सबसे पहले किसान को खरीद केंद्र पर जाना होगा। किसान को खरीद केंद्र पर पंजीकरण कराना होगा।
  • पंजीकरण के बाद, किसान को एक पंजीकरण कोड प्रदान किया जाता है।
  • इसके बाद किसान को गेहूं खरीद की तारीख की जानकारी देने के लिए एक टेक्स्ट मैसेज भेजा जाता है।
  • अब किसान को निर्धारित तिथि पर एसएमएस द्वारा खरीद केंद्र पर जाना होगा।
  • उसके बाद, किसान से गेहूं खरीदा जाता है और इस खरीद के प्रमाण के रूप में एक रसीद प्रदान की जाती है।
  • इसके बाद गेहूं की खरीद की राशि किसान के खाते में जमा कर दी जाती है।

MP E Uparjan 2022 पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे?

MP E Uparjan 2022

  • अब आपके लिए होम पेज खुलेगा।
  • इस होमपेज पर आपको रबी 2022-2023 का विकल्प दिखाई देगा, आपको उस पर क्लिक करना होगा। विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके लिए अगला पेज खुल जाएगा।

Rabi MP E Uparjan 2022

  • आपको किसान पंजीकरण / आवेदन खोज विकल्प दिखाई देगा, आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा। विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके लिए अगला पेज खुल जाएगा।

MP E Uparjan 2022 registration rabi

  • इस पेज पर आपको एक फॉर्म दिखाई देगा, आपको इस फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी जैसे किसान का नाम, मोबाइल नंबर, सामान्य आईडी आदि भरनी होगी।
  • इसके बाद आपको सेंड बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह आपकी आवेदन प्रक्रिया सफलतापूर्वक पूरी हो जाएगी।

एमपी ई उपार्जन MP E Uparjan आवेदन स्थिति जानने की प्रक्रिया

MP E Uparjan 2022 kharif jankari

  • फिर आपके लिए एक नया पेज खुलेगा जिस पर आपको आवेदन संख्या दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सर्च बटन पर क्लिक करना है।
  • आपके आवेदन की स्थिति आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी।

Leave a Comment